म्हारी हल्दी रो रंग सुरंग | Mhari haldi ro rang surang

तर्ज:

म्हारी हल्दी रो रंग सुरंग, निपजे मालवे
मौलवे लाड-लड़ी रा दादाजी, दादियां रे मन रले

वांकी माता चतुर सुजान हल्दी खेवटे
वांकी काकियां चतुर सुजान हरष घणो करे
आई वीणजारा री रीत, लगावे हल्दी पग तले
म्हारी हल्दी रो …
(इसी तरह भाभी, बहन, भुआ, मामी, मासी का नाम लेवे)

इस पेज को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *