मधुर मिलन की मधुर रात में | Madhur milan ki madhur raat me

तर्ज: मिलो ना तुम तो हम घबराये...

मधुर मिलन की मधुर रात में, मधुर बजे शहनाई
हृदय खुश हो रहा है -2

– 1 –

ओ प्यारी बन्नी टीका मंगाया बड़े शौक से
ओ प्यारी बन्नी बिंदिया मंगाई बड़ी शौक से
टीका पहन के, बिंदिया लगाके जओगी ससुराल
हृदय खुश हो रहा है। मधुर मिलन…

(आगे और गहनों का नाम लेवें)

इस पेज को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *