मैं खुल्ला ताला छोड आई नींद के मारे | Mai khulla tala chhod aayi neend k maare

तर्ज: दरवाजा खुल्ला छोड़ आयी नींद के मारे ...

मैं खुल्ला ताला छोड आई नींद के मारे
नींद के मारे मैं नींद के मारे
मैं खुल्ला …

– 1 –

हमरे बलमजी ने कंघा मंगाया
मैं झाडू पकड़ाय आई, नींद के मारे। मैं खुल्ला …

– 2 –

हमरे बलमजी ने पानी मंगाया
मैं कुयें में धकेल आई, नींद के मारे। मैं खुल्ला …

– 3 –

हमरे बलमजी ने पान मंगाया
मैं पीपल का पत्ता दे आई, नींद के मारे। मैं खुल्ला …

– 4 –

हमरे बलमजी ने सेज बिछाई
पड़ोसन को बैठाल आई, नींद के मारे। मैं खुल्ला …

इस पेज को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *