चाहे सासुजी लड़े चाहे जेठानी | Chahe saasuji lare chahe jethani

तर्ज:

बन्ना फैशन बन्ना दो मेरी मनमानी
चाहे सासुजी लड़े चाहे जेठानी

– 1 –

बन्ना जाना जी बाजार साड़ी लाना पल्लेदार 2
बेल बूटे की बहार, रेग आसमानी
चाहे सासुजी लड़े, चाहे जेठानी। बन्ना फैशन …

– 2 –

बन्ना जाना जी बाजार, चुड़ियां लाना चमकदार 2
कुंदन, मीने की बहार, पहनूं मन भानी
चाहे सासुजी लड़े, चाहे जेठानी। बन्ना फैशन …

– 3 –

बन्ना जाना जी बाजार, बेणी लाना खुशबूदार 2
मोगरा – चमेली की बहार, और रातरानी
चाहे सासुजी लड़े, चाहे जेठानी। बन्ना फैशन …

– 4 –

बन्ना जाना जी बाजार, मिठाई लाना लच्छेदार 2
चमचम, रबड़ी की बहार, संग दिलजानी
चाहे सासुजी लड़े, चाहे जेठानी। बन्ना फैशन …

– 5 –

बन्ना जाना जी बाजार, लेकर आना मोटरकार
घूमें ग्वालियर के बाजार, हम दोनो प्राणी
चाहे सासुजी लड़े, चाहे जेठानी। बन्ना फैशन …

इस पेज को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *