सावन का महीना बन्ने ने कीया शोर | Saawan ka mahina, banne ne kiya shor

तर्ज: सावन का महीना...

सावन का महीना बन्ने ने कीया शोर
जल्दी शादी कर दो मंहगाई का है जोर

– 1 –

दादा बराती आये दादी को संग में लाये
ताऊ बराती आये ताई को संग में लाये
जब से बन्नी आयी दादी का चले ना जोर
अरे जब से बन्नी आयी ताई का चले ना जोर।
जल्दी शादी कर दो मंहगाई का है जोर
सावन का महीना…

– 2 –

पापा बराती आये मम्मी को संग में लाये
चाचा बराती आये चाची को संग में लाये
जब से बन्नी आयी मम्मी का चले ना जोर
अरे जब से बन्नी आयी चाची का चले ना जोर।
जल्दी शादी कर दो मंहगाई का है जोर
सावन का महीना…

– 3 –

मामा बराती आये मामी को संग में लाये
फूफा बराती आये बुआ को संग में लाये
जब से बन्नी आयी मामी का चले ना जोर।
अरे जब से बन्नी आयी बुआ का चले ना जोर।
जल्दी शादी कर दो मंहगाई का है जोर
सावन का महीना…

– 4 –

भईया बराती आये भाभी को संग में लाये
जीजा बराती आये जीजी को संग में लाये
जब से बन्नी आयी भाभी का चले ना जोर।
अरे जब से बन्नी आयी जीजी का चले ना जोर।
जल्दी शादी कर दो मंहगाई का है जोर
सावन का महीना…

इस पेज को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *