Tag Archive | khayali

यार मुझे आज घरवाली ने मारा | yaar mujhe aaj gharwali ne maara

यार मुझे आज घरवाली ने मारा,
मारा जो मारा पर घर से निकाला।
जाते-जाते कर गई किवाड़ो पर ताला,
यार मुझे आज घरवाली ने मारा।
पढ़ना जारी रखें

इस पेज को शेयर करे

सिंगारदानी छोटी हाय दइया दइया | Singardaani chhoti haay daiya daiya

सिंगारदानी छोटी हाय दइया दइया
सिंगारदानी छोटी हाय दइया दइया
पढ़ना जारी रखें

इस पेज को शेयर करे

रुपयो तो लईने ब्याई जी बाजरां में चाल्या | Rupyo to laine byaiji bajara me chaalya

रुपयो तो लईने ब्याई जी बाजरां में चाल्या
तो वठां से लाया रुई की लुगाई।
रुई लुगाई ने आंगणा में मेली
तो आई हवा उड़ गई रे लुगाई।
पढ़ना जारी रखें

इस पेज को शेयर करे

ऐ जी म्हारा समधी जी | Ae ji mhara samdhiji

कमर टेढ़ी समधन की, वा तो लंगड़ी लंबड़ी चल रही रे
ऐ जी म्हारा समधी जी

पढ़ना जारी रखें

इस पेज को शेयर करे

मैं खुल्ला ताला छोड आई नींद के मारे | Mai khulla tala chhod aayi neend k maare

मैं खुल्ला ताला छोड आई नींद के मारे
नींद के मारे मैं नींद के मारे
मैं खुल्ला …
पढ़ना जारी रखें

इस पेज को शेयर करे

कोठे ऊपर कोठरी मैं उसमें रेल चला दूंगी | Kothe upar kothri mai usme rel chala dungi

कोठे ऊपर कोठरी मैं उसमें रेल चला दूंगी
कोठे ऊपर कोठरी मैं उसमें रेल चला दूंगी…
पढ़ना जारी रखें

इस पेज को शेयर करे

मेरा ससुराल फिल्मीस्तान अम्मां मैं क्या करुं | Mera sasural filmistan amma mai kya karu

मेरा ससुराल फिल्मीस्तान अम्मां मैं क्या करुं

– 1 –

सासू लाल मिर्च सी ज्वाला, हर दम मुझको देती ताना
वो तो लगे ललिता पंवार, अम्मां मैं क्या करुं
मेरा ससुराल …
पढ़ना जारी रखें

इस पेज को शेयर करे

जो अनपढ़ बन्ना पाया है | Jo anpadh banna paya hai

किस्मत तो हमारे खोटे हैं, जो अनपढ़ बन्ना पाया है
किस्मत तो हमारे खोटे हैं, जो अनपढ़ बन्ना पाया है।
पढ़ना जारी रखें

इस पेज को शेयर करे